अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत विभाग, उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विकास अभिकरण

विकेन्द्रीकृत वितरित जनरेशन योजना ( डीडीजी )

उत्तर प्रदेश में डीडीजी ( विकेन्द्रीकृत वितरित जनरेशन योजना ) योजना के तहत ०५ जिलो के २५ ग्रामों के विधुतीकरण विकेन्द्रीकृत मोड में सौर ऊर्जा के माध्यम से किया जा रहा है । इन २५ ग्रामों का विधुतीकरण कुल क्षमता ५७७ किलोवाट के सौर ऊर्जा सयंत्रों के ३२ परियोजनाओं से माध्यम से किया जाता है । कार्यक्रम के तहत २५ ग्रामों के ६०१० परिवार को पावर नेटवर्क ( पीडीएन ) के माध्यम से गुडवत्ता की विधुत प्रदान की जाएगी, जो पीक लोड बिजली के दौरान ५७७ किलोवाट की बचत करेगी । उपरोक्त काम सौर ऊर्जा सयंत्र की स्थापना और ग्रिड की स्थापना के द्वारा किया जा रहा है, जिस से प्रदूशण के बिना बिजली उत्त्पन्न की जाती है । इस परियोजना को स्थापित किये जाने से कार्बन उत्त्सर्जन प्रति वर्ष ७०० टन तक काम किया जा सकता है ।

डीडीजी परियोजना को ग्रामीण विद्युतीकरण निगम, ऊर्जा मंत्रालय द्वारा वित्त पोषित किया जाता है। भारत सरकार द्वारा परियेाजना लागत का 90 प्रतिशत अंश सब्सिीडी के रूप में प्रदान किया गया है और शेष 10प्रतिशत धनराशि यू.पी. राज्य सरकार को ऋृण के रूप में दी जाती है।

  • प्रस्तावित अविद्युतीकृत ग्रामों में कार्यो/ग्रामों की सूची । Read More...
  • वर्तमान में क्रियान्वित किये जा रहे कार्यो की सूची । Read More...
twitter Facebook
Back To Top